Fairy Tales Story In Hindi | गुलाबी | Princess Story In Hindi

Fairy Tales Story In Hindi : गुलाबी

 

princess story in hindi, kahaniya new, pari ki kahani, fairy tales in hindi, hindi mein kahaniya, jadui pari, princess ki kahani, cinderella wali kahani, princess kahani, jadui pari ki kahani, new hindi kahaniya, jadui pariyon ki kahani, fairy tales story in hindi,
Fairy-Tales-Story-In-Hindi-The-Pink_storiesmasti.com

(Fairy Tales Story In Hindi- Princess Story In Hindi )

एक समय की बात है एक बहुत ही सुंदर राज्य में एक बहुत ही गरिमामयी सुंदर महारानी रहती थी वह खुश तो बहुत थी लेकिन उसकी कोई संतान न थी । एक दिन जब अपने बाग में थी उसने आसमान की ओर देखा और प्रार्थना की । तो एक पारी ने कहा मेरी प्रिय महारानी चिन्ता मत करो क्योंकि तुम्हारी प्रार्थनाएं सुनी जाएंगी ।

हे परमेश्वर तो बहुत बहुत धन्यवाद । तुम्हारा एक बेटा होगा जिसने कामना पूर्ति की सामर्थ्य होगी उसकी भली भांति सुरक्षा करना । कुछ महीने गुजरे और एक राजकुमार पैदा हुआ पूरे राज्य में आनंद आ गया । दो साल के बाद आराम करते हैं एक दिन नदी पर लेकर गयी नहाने के लिए हमेशा की तरह ।

उसे जरा भी अंदाजा नहीं था कि दुष्ट रसोइयां एक साजिशकर्ता है । व्यर्थ ही बच्चे को ढूंढती है और उसे ढूंढने में असमर्थ रहती है । आँसू भरे नैनों से वो राजा को ये बुरी खबर सुनाने जाती है जबकि रसोइया पहली ही राजा के पास पहुँचता है और उन्हीं झूठ बताता है । महाराज रानी ने जानवरों को हमारा राजकुमार ले जाने दिया । उसका खून उनके कपड़ों पर फैला है । राजा ने कहा छोटे तुमने हमारे बेटे को जानवरों को दे दिया तुम्हे इसकी सजा जरूर मिलेगी । राजा गुस्से और जुनून से पागल हो उठा ।

So You Read (Fairy Tales Story In Hindi- Princess Story In Hindi )

Also Read :   KIDS STORIES

रानी को मृत्यु के बुर्ज में सात साल का निर्वासन दिया । बिना भोजन पानी के उसे मरने के लिए छोड़ दिया । पर देवता बेचारी रानी पर दयालु थे उन्होंने उसे खाना देने के लिए दूतों को भेजा । कुछ साल गुज़र गए राजकुमार बड़ा हुआ । एक बहुत ही व्यवहारकुशल सुन्दर नौजवान के रूप में घने जंगलों में अपने माता पिता से दूर जिनसे वो अनजान था । रसोइया फैसला करता है कि वो अच्छा समय है लाभ उठाने का ।

मेरे प्रिय बच्चे तुम्हारी चाचा चाहते हैं कि तुम उनके लिए कुछ करो । राजकुमार ने कहा हां चाचाजी बताइए मैं आपके लिए क्या करूं । तुम्हें अपनी आँखें बंद करनी होगी और कामना करनी होगी एक राज्य में एक विशाल और धन संपत्ति किराए की और जिसके तुम राजा होंगे और मैं तुम्हारा प्रधान । रसोइया और अधिक चाहता है मेरे प्रिय बच्चे अब तुम्हें अपनी आँखें बंद करनी होगी और अपनी लिए बहुत ही सुन्दर कुमारी की कामना करनी होगी क्योंकि तुम अकेले नहीं रहना चाहेंगे ।

Also Read :   FAIRY TALES

और इस तरह राजकुमार को अपना जीवनसाथी मिल गया । उनमें तुरंत ही प्रेम हो गया और वो नाचते जश्न मनाते राजी खुशी रहने लगे । फिर भी उस रसोइये की और भी दुष्ट योजनाएँ थीं और रसोइया रात को एक ऊँचे कक्ष में दुष्ट अट्टहास के साथ आईने में देखता है और स्वयं से बातें करता है कहता हैं मेरे पास वो हर चीज है जिसकी मैंने जय की थी।

अब केवल एक ही चीज बाकी हे, राज कुमार को मरना होगा क्योंकि यदि वो अपने माता पिता के बारे में जान लेगा तो मैं मुसीबत में पड़ जाऊँगा हू हो ओहो । बो उस कुमारी से कहता है कि तुरंत ही राजकुमार को नींद में मार देना अन्यथा वो मारी जाएगी । राजकुमारी कहता हैं मैं उसे नहीं मारूंगी मैं उसे सचमुच प्रेम करती हूं ।

So You Read (Fairy Tales Story In Hindi- Princess Story In Hindi )

Also Read :  MOTIVATIONAL STORIES 

ओ मार डालो उसे और तुम ये करोगी वरना तुम गायब हो जाओगी । देखो मैं उसे उसके माता पिता के बारे में पता नहीं चलने दे सकता और ये कि मैंने उसे कैसे चुराया । आब या तो तुम नष्ट हो जाओगी या मेरा काम करोगी । राजकुमारी कहा तुम बहुत दुष्ट आदमी हो । टैब उसने कहा में जब तुम्हारे कमरे में आऊंगा और उसे बस मारा हुआ देखना चाहूंगा । मुझे पता था तुम ये नहीं करोगी ।

टैब राजकुमार ने सब कुछ सुन लिया था और कहा मैंने सब कुछ सुन लिया है । राजकुमारी बोली मुझे क्षमा करना प्रिय । मुझे अपनी और तुम्हारी जान का डर था । राजकुमार ने कहा अब वो अपने कुकर्मों की कीमत चुकाएगा । राजकुमार कामना करता है कि रसोइया एक काला कुत्ता बन जाए सुनहरे पत्ते के साथ । और उसे खाने के लिए सिर्फ जलते हुए कोयले दिए जाएं । तब राजकुमार सोचा अब मुझे अपने माता पिता के पास लौटना चाहिए ।

Also Read :   HORROR STORIES

और राजकुमार राजकुमारी को इसी तरह अपने माता पिता के पास लेना नहीं चाहता फिर वह राजकुमारी को एक फूल बना देता है । इस तरह राजकुमार कामना करता है कि वो बहुत ही सुन्दर गुलाबी गुलाब बन जाए और उसे अपनी जेब में ले जाता है । और कुत्ते को खीचते हुए अपने माता पिता की तलाश में निकल पड़ता है । बहुत अर्से यात्रा करने के बाद वो अपने राज्य में पहुंचता है और अपनी मां का हाल जानता है बाजार की उन स्थानीय लोगों के द्वारा ।

वो रात को उस बुर्ज में वापस पहुंचता है और एक सीढ़ी की कामना करता है अपनी मां तक पहुंचने के लिए और माँ तक पोहंचने के बाद उनसे पूछा मेरी प्रिय महारानी क्या अब जीवित है अब सही सलामत है अब मेरी तू मुझे अच्छे से भोजन मिल रहा है और मैं संतुष्ट हूं । टैब उसने कहा महारानी में आपका पुत्र हूँ, मैं जंगल से लौट आया हूं जहां उस दुष्ट रसोइये ने मुझे कैद कर रखा था । वो मुझे ले गया था और आप पर झूठा आरोप लगाया था । मैं आपको बचाने आया हूं । तब महारानी ने कहा दिव्य पुत्र देवताओं ने फिर से मेरी प्रार्थना सुन ली है ।

So You Read (Fairy Tales Story In Hindi- Princess Story In Hindi )

Also Read :   MORAL STORIES

राजकुमार ने सभी हिरन लिए और अगली सुबह किले के फाटक पर दस्तक दी । उसने अनुरोध किया राजा से दरबार में मिलने का और उसे उपहार स्वरूप हिरन देने का । राजा ने कहा धन्यवाद है महान शिकारी इन 200 हिरणों का उपहार हमें स्वीकार है । शिकारी तुम्हें बदले में क्या चाहिए । महाराज बस एक दावत आपके और आपकी शाही परिवार के साथ । वह स्वयं से एक कामना करता है काश कोई राजा इस समय इनसे मेरी मां के बारे में बात करे ।

तभी एक राजा ने पूछा महाराज जी इतना शुभ अवसर है क्या हम कम से कम महारानी का स्वास्थ्य जान सकते हैं और उन्हें यहा आमंत्रित कर सकते हैं बहुत साल गुजर गए हैं । टैब राजा ने कहा कभी नहीं उन्होंने मेरे पुत्र को जानवरों को दे दिया । टैब राजकुमार ने जबाब दिया महाराज वो एक झूठ है कियू की मैं आपका पुत्र हूं । और मुझे जानवर लेकर नहीं गए थे बल्कि वो आपका दुष्ट रसोइया लेकर गया था ।

राजा ने कहा मैं तुम्हारा विश्वास कैसे करूं । राजकुमार मुस्कुराया और एक बार फिर से उसने कामना की तो कुत्ता एक बार फिर से रसोइया बन गया जो दर्द से कराह रहा था और उसने कहा कि यह सच है यह सच है यह सब सच है मैंने ये किया । कृपया मेरे स्वामी मुझ पर दया करो । मेरे लालच ने मुझे अंधा कर दिया था । टैब राजा ने उसे तुरंत कैदखाने में कैद कर दिया और इस तरह एक सबक लिया गया कि लालच बुरी बात है और शाही परिवार इसके बाद खुशी से रहने लगा हमेशा के लिए ।

So You Read (Fairy Tales Story In Hindi- Princess Story In Hindi )

Also Read :   LOVE STORIES

Default image
Dhruba Mandal
नमस्कार दोस्तों, मेरा नाम हैं ध्रुब मंडल में ओड़िसा के एक छोटे से गाँव में से हूँ और इस ब्लॉग संस्थापक हूँ. में एक ग्रेजुएट स्टूडेंट हूँ. और मुझे टेक्नोलॉजी, एजुकेशन, लाइफ स्टाइल के बारे में लिखना ज्यादा पसन्द आता हैं.
Articles: 37

Leave a Reply